8/05/2018

पूरक कोण किसे कहते हैं || पूरक कोण की परिभाषा || पूरक कोण का अर्थ || पूरक कोण का मान || पूरक कोण का योग

पूरक कोण किसे कहते हैं || पूरक कोण की परिभाषा || पूरक कोण का अर्थ || पूरक कोण का मान || पूरक कोण का योग

पूरक कोण किसे कहते हैं।

समकोण के बराबर किन्ही दो कोनों को purak kon कहते है।

पूरक कोण की परिभाषा

दो कोणों का योग समकोण के बराबर हो तो ऐसे कोणों को "purak kon" कहते है।  गणित के सभी कोण 

पूरक कोण का अर्थ

वे कोण जिनका योग 90० हो।


पूरक कोण का मान या योग 

इसका मान  का मान 90०  होता है  

पूरक कोण के उदाहण 


पूरक कोण
उपरोक्त चित्र में दो कोण दिए गये है जिनमे से कोण AOB का मान 30० है और कोण AOC का मान 60० है 
अतः इन कोणों का योग 
∠AOB + ∠AOC = 30०  + 60०  = 90० 
इसी प्रकार यदि किन्ही दो कोणों का योग 90० हो तो वे purak kon कहलायेगे 
महत्वा पूर्ण प्रसन -
  •  दो कोण A और B जिनके मान क्रमशः 45०, 45 है तो ये कोण ?
  1. संपूरक कोण है 
  2. purak kon 
  3. अनुपूरक कोण है 
  4. आसन्न कोण है 
  • ans २ कोण A और कोण B का योग करके देखने पर इनका मान 90० आता है अतः हम जानते है की यदि दो कोणों का यो 90० है तो वे कोण purak kon कहते है 


  • दो कोण जिनके मान क्रमशः A = 30० और B = 60० तो ये कोण है ?
  1. संपूरक कोण है 
  2. purak kon
  3. अनुपूरक कोण है 
  4. आसन्न कोण
  • ans २ कोण A और कोण B का योग करके देखने पर इनका मान 90० आता है अतः हम जानते है की यदि दो कोणों का यो 90० है तो वे कोण purak kon कहते है 

  • दो कोण A और B जो एक दुसरे के पूरक है यदि कोण A = 30० है तो कोण B का मान क्या होगा ?
  1. 30० 
  2. 40० 
  3. 50० 
  4. 60० 
  • ans 4 हम जानते है purak kon का मान 90० होता है अतः कोण ∠A + ∠B = 90० जहाँ ∠A = 30 है 
∠A + ∠B = 90० 
30०  + ∠B = 90० 
∠B = 90० - 30० 
∠B= 60० 



  • दो कोण A और B जो एक दुसरे के पूरक है यदि कोण A = 60० है तो कोण B का मान क्या होगा ?
  1. 30० 
  2. 40० 
  3. 50० 
  4. 60० 
  • ans 4 हम जानते है purak kon का मान 90० होता है अतः कोण ∠A + ∠B = 90० जहाँ ∠A = 60  है 
∠A + ∠B = 90० 
60०  + ∠B = 90० 
∠B = 90० - 60० 
Previous Post
Next Post

8 comments:

Hello Friends