7/10/2018

ऊर्जा संरक्षण के उपाय 0% से 95% तक विधुत, एलपीजी, पेट्रोलियम उर्जा बचाए इन आसन विधि से


                                 ऊर्जा संरक्षण के उपाय

इस आर्टिकल में उर्जा संरक्षण के उपाय के विषय में बताया गया है 

विधुत ऊर्जा संरक्षण के उपाय :-

विधुत उर्जा संरक्षण के उपाय

  • आवस्यकता ना होने पर विधुत से चलने वाले उपकरण बंद (Close) कर देना चाहिए।  
  • हमेशा LED TV का प्रयोग करे और टीवी,  रिमोट से बंद करने के बजाय इसे स्विच से बंद करे
  • मोबाइल (Mobile) या लैपटॉप (Laptop) चार्जर बंद कर देना चाहिए जब इसका पयोग ना हो। जैसे आप की मोबाइल चार्ज हो जाये तो चार्जर बंद कर देना चाहिए। 
  • मोबाइल फ़ोन में हमेशां battery saving app का प्रयोग करे
  • साधारण बल्ब प्रयोग करने के बजाय LED बल्ब का प्रयोग करे। क्यों LED BULB 95% तक बिधुत बचाते है। जिससे विधुत का बिल कम आयेगा
  • LED,CFL पर जमी धूल को हमेसा साफ़ करते रहना चाहिए। क्योकि बल्ब पर धुल ज़माने से प्रकाश कम प्राप्त होता है
  • ऐसे LED बल्ब का प्रयोग करना चाहिए जिसका प्रकाश 360० तक फैले। 
  • दिन के समय नेचुरल लाइट का ही प्रयोग करे। 
  • पंखा (Fan) कूलर (Cooler) आदि को समय-समय पर ग्रीसिंग करवाते रहे। इससे विधुत उपकरण मुक्त रूप से चलते है। और विधुत की बचत आधिक होती है। 
  • विधुत सामान ISI मार्क देखकर ले ये बिधुत की बचत करते है। 
  • गिसर से विधुत की खपत आधिक होती है इसे 45 से 50 हीटिंग मूड में रखे। 
  • रेफ्रिजेरेटर के द्वारा विधुत की खपत अधिक होती है। विधुत की खपत तब अधिक हो जाती है। जब इसके पीछे लगे कुलिंग क्वाइल पर धूल जम जाती हो। अर्थात AC और Refrigerators  सफाई निरंटर करते रहने चाहिए। 
  • AC को बाहर न लगाकर इसे सेड से ढक देना चाहिए। 
Conclusion- उपरोक्त लेख से ये बताया गया है आवश्यक्ता न होने पर विधुत उपकरण को प्रयोग में ना ले इनकी निरंतर सफाई, देख-भाल करते रहे ISI मार्का देखकर विधुत उपकरण ख़रीदे 

LPG गैस ऊर्जा संरक्षण के उपाय

LPG गैस उर्जा संरक्षण के उपाय

 हम जानेगे की रसोई गैस की बचत कैसे कर सकते है। रसोई गैस संरक्षण के के तरीके निम्न है।

  • जब भी हम चावल (Rice)) दाल या ऐसे कोई भी पकवान बनाये। जिन्हें कुछ टाइम पहले भिगोना सम्भव हो इन्हे भिगोकर बनाना चाहिए। ताकि कम गैस, कम समय (Time) में पकवान बनकर रेडी हो जाये। 
  • यदि हम कड़ाई की जगह पर प्रेसर कुकर (Pressure cooker) का यूज़ करे खाना जल्दी रेडी  जाता है। क्योकि कड़ाई में खाना बनाने में बहुत टाइम और गैस लग जाता है।  प्रेसर कुकर में वाटर (Water) का ताप जल्दी बढ़ जाता है। जिससे खाना जल्दी बन जाता है। 
  •  गैस का बर्नर (Burner) हमेसा क्लीन (clean) रखना चाहिए। अक्सर चाय या दूध बॉईल होकर निचे गिर कर गैस के बर्नर में जम जाता है। जिससे गैस का फ्लो कम होता  है। गैस की खपत अधिक होती है। गैस बर्नर हमेसा साफ़ रखना चाहिए। 
  • खाना बनाते समय पानी उतना ही डाले जितने की आवश्यकता अधिक पानी हो जाने पर जलने में ज्यादा समय और गैस दोनों लगता है।
  • खाना हमेशा ढक कर बनाये। 
  • फ्रिज में रखे सामान जैसे पनीर सब्जी को तुरंत न बनाये उसे नार्मल ताप (Normal Temperature) पर आने दे। फिर बनाये क्योकि बहुत अधिक ठंडे सामान (सब्जी, पनीर) को गरम करने में समय लगता है। गैस की अधिक खपत होती है ।
  • खाना जब बनाकर तैयार हो जाये रेगुलेटर (Regulator) बंद कर देना चाहिए। 
  • हमेशा इंडक्शन कुकर (Induction cooker) में ही खाना बनाये इस प्रकार के कुकर जल्दी हीट होते है। 
  • गैस पीले रंग के लौ के साथ जल रही हो तो इसका अर्थ है। की गैस पूर्ण रूप के नहीं जल रहा है। 

पेट्रोलियम ऊर्जा संरक्षण के उपाय

Petroleum उर्जा संरक्षण के उपाय
  • कार, मोटर साइकिल को तीसरे - चौथे गियर पर कांस्टेंट स्पीड (Constant speed) में चलाये ।
  • कार चलाते समय कार के खिड़की - दरवाजे बंद रखना चाहिए। ऐसा ना करने पर कार में हवा का दबाव बढ़ जाता है। जिससे हवा के विरोध में कार को अधिक काम करना पढ़ता है। फ्यूल (fuel) की खपत अधिक होती है। 
  • लोगो का मानना ये है। की टायर में हवा का दाब आधिक रखने से फ्यूल की खपत कम होती है। ये तथ्य सही है। लेकिन टायर में ज्यादा प्रेसर (Pressure) होने के कारण ब्रेक (Break) देर से लगता है दुर्घटना की संभावना बढ़ जाती है ।
  • यदि संभव हो बार-बार ब्रेक, त्वरित (Acceleration) का ना करे इससे फ्यूल ज्यादा बर्न होता है।   
  • फ्यूल सर्वोत्तम गुणों का प्रयोग करे ।
  • वाहन के इंजन की समय - समय पर जाँच करवाते रहे ।
  • यदि वाहन से अधिक आवाज आ रही है। तो इसका अर्थ ये है। की वाहन के इंजन में ग्यादा फ्रिक्शन (Friction) हो रहा है जिससे फ्यूल ग्यादा बर्न होगी वाहर की जाच कराये ।
  • वाहन से आधिक धुआ (smoke) आने पर इसकी जाँच कराये
  • ट्राफिक पर रेड लाइट के दौरान वहां बंद कर दे 

प्रकाश ऊर्जा संरक्षण के उपाय

प्रकाश उर्जा संरक्षण के उपाय

प्रकाश उर्जा की बचत हमारे लिए महत्वपूर्ण इस लिए है। क्योकि इसकी  बचत से विधुत बिल कम आता है। और बची हुई बिजली का प्रयोग अन्य नए छेत्रो में होता है। जहाँ विधुत लाइन अभी तक ना पहुची हो।
प्रकाश ऊर्जा संरक्षण के उपाय निम्न है ।
  • साधारण बल्ब के स्थान पर LED बल्ब का प्रयोग करे। 
  • दिन के समय प्राकृतिक प्रकाश (Natural Light) का प्रयोग करे ।
  • बल्ब पर जमी धुल को साफ करते रहे। 

जल संरक्षण के उपाय 



  • जब भी ब्रश करे, बर्तन धोये आवश्यकता ना होने पर नल बंद (close) कर दे ।
  • शावर के स्थान पर बाल्टी (bucket) का प्रयोग करे
  • नल लीक (leak) होने की स्थिति में उसे तुरंत ठीक कराये।
  • कम पानी की खपत वाली वाशिंग मशीन का प्रयोग करे ।
  • पौधों में पानी water केन से डाले इससे पानी की बचत होती है ।
  • घर में water मीटर लगवाए इससे पानी की बर्बदी का पता लग सके।
द्रव्यमान संरक्षण का नियम

Previous Post
Next Post

2 comments:

Hello Friends