4/23/2018

समांतर चतुर्भुज की परिभाषा || समांतर चतुर्भुज के गुण || समांतर चतुर्भुज का क्षेत्रफल का सूत्र || समांतर चतुर्भुज का परिमाप सूत्र || समांतर चतुर्भुज का विकर्ण

समांतर चतुर्भुज की परिभाषा ||  समांतर चतुर्भुज के गुण || समांतर चतुर्भुज का क्षेत्रफल का सूत्र || समांतर चतुर्भुज का परिमाप सूत्र || समांतर चतुर्भुज का विकर्ण

 समांतर चतुर्भुज

 समांतर चतुर्भुज की परिभाषा

चार भुजाओ से घिरी वह आकृति जिसके आमने सामने की भुजाये सामान और समान्तर होती है

 OR

चार भुजाओं से गिरी वह आकृति,  जिसमें सम्मुख भुजाएं अर्थात आमने-सामने की भुजाएं बराबर और समांतर हो,  समांतर चतुर्भुज कहलाता है इसके सम्मुख कोण भी बराबर होते हैं



 समांतर चतुर्भुज के गुण 


  • सम्मुख भुजाएं बराबर होती है। 


  • सम्मुख कोण बराबर होते है।


  • विकर्ण एक दसरे को समद्विभाजित करते है
  • विकर्ण आपस में समान नहीं होते है 

समांतर चतुर्भुज का क्षेत्र

चतुर्भुज के चारों भुजाओं से घिरा द्वीविमीय भाग ही चतुर्भुज का क्षेत्रफल है। 

समांतर चतुर्भुज का क्षेत्रफल सूत्र

  • 2 (आधार× ऊंचाई) 
  •  2 ×ΔABD का क्षेत्रफल
  • कर्ण × आमने-सामने के किसी शीर्ष से कर्ण की लम्बाई 

समांतर चतुर्भुज का क्षेत्रफल ज्ञात करे 



दोस्तों आपने समांतर चतुर्भुज की परिभाषा के बारे में पढ़ लिया आइए जानते हैं समांतर चतुर्भुज का क्षेत्रफल कौन-कौन सी विधियों द्वारा ज्ञात किया जा सकता है उपरोक्त चित्र में समांतर चतुर्भुज का चित्र बनाया गया है  इनकी चार भुजाएं AB, DC और  DA, CB आपस में समांतर हैं यानि AB भुजा DC के समांतर है .और भुजा DA CB के समांतर है  चतुर्भुज का क्षेत्रफल ज्ञात करने के लिए समांतर चतुर्भुज के आधार की लंबाई और समांतर चतुर्भुज की लंबवत ऊंचाई के गुणनफल के बराबर होता है  क्षेत्रफल(A) = आधार(b) × ऊंचाई(h)

समांतर चतुर्भुज का परिमाप

चतुर्भुज की चारों भुजाओं का योग चतुर्भुज का परिमाप होता है। 

समांतर चतुर्भुज का परिमाप सूत्र


  • सभी भुजाओं का योग
  • 2×(a+b) 
 समांतर चतुर्भुज का परिमाप कैसे ज्ञात करें? 


चार भुजाओं से घिरे संतोष क्षेत्रफल को चतुर्भुज कहते हैं इसका प्राकृतिक चिन्ह है किसी भी चतुर्भुज में चार भुजाएं तथा चार कोण होते हैं  चतुर्भुज के चारों कोणों का योगफल 4 समकोण अर्थात 300 साल का होता है
इस चित्र में ABCD एक चतुर्भुज है जिसकी भुजाएं एबी b c CD तथा एडी है इसके कोड रेखाखंड एसी तथा वीडियो को बिगड़ कहते हैं चतुर्भुज की भुजाएं जिनका कोई उभयनिष्ट बिंदु ना हो सम्मुख भुजाएं कहलाती हैं चित्र में ABCD तथा एडीपीसी सम्मुख भुजाएं हैं

2  चतुर्भुज की वेदों भुजाएं जिसका एक उभयनिष्ठ अत्यंत बिंदु हो क्रमागत भुजाएं कहलाती है चित्र में ए बी बी सी b c c d CD DA da एबी क्रमागत भुजाएं हैं

3 चतुर्भुज के दो कोण जिनको आंतरिक करने वाली भुजाओं में कोई भुजा सर्वनिष्ठ ना हो सम्मुख कोण कहलाता है चित्र में कूड़े तथा डी सम्मुख कोण है

चतुर्भुज के वेदों को जिनको आंतरिक करने वाली भुजाओं में एक भुजा सर्वनिष्ठ क्रमागत को जलाते हैं चित्र में कोर बी बी सी सी तथा दिए DA क्रमागत कौन है



समांतर चतुर्भुज का विकर्ण का सूत्र --- (समांतर चतुर्भुज का क्षेत्रफल का सूत्र /(आमने-सामने के किसी शीर्ष से कर्ण की लम्बाई )
आयत का क्षेत्रफल 
आयत का परिमाप



Previous Post
First

0 comments:

Hello Friends